बड़ी खबरराष्ट्र-राज्य

घाटी में बारिश और बर्फबारी को लेकर ‘ऑरेंज अलर्ट’ खराब मौसम की वजह से सभी उड़ानें रद्द, प्रशासन सतर्क

कश्मीर घाटी के पहाड़ी क्षेत्रों में सोमवार रात से ही बर्फबारी का सिलसिला जारी है जबकि राजधानी श्रीनगर में रात के कुछ घंटे हल्की बर्फबारी के बाद बारिश होती रही और आज मंगलवार सुबह श्रीनगर समेत सभी जिलों में बर्फबारी हो रही है. मौसम विभाग ने बर्फबारी को लेकर ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया है. इस बीच श्रीनगर एयरपोर्ट से होने वाली सभी उड़ानों को रद्द कर दिया गया है.

मौसम विभाग ने आज मंगलवार को ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया, क्योंकि मौजूदा मौसम के हालात में बर्फबारी के ‘तेज’ होने की संभावना है. मौसम कार्यालय ने पहले ही जम्मू-कश्मीर में 8 जनवरी तक बर्फबारी की एडवाइजरी जारी कर दी है. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि उम्मीद के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर में व्यापक रूप से हल्की बारिश या बर्फबारी और ऊंचाई वाले इलाकों में मध्यम हिमपात के साथ बादल छाए हुए हैं.

उन्होंने कहा कि वर्तमान मौसम के दिन चढ़ने के साथ तेज होने की संभावना है. मैदानी इलाकों में मध्यम हिमपात/बारिश और ऊंचाई वाले क्षेत्रों में भारी हिमपात की संभावना है, यह आज रात और कल जम्मू और कश्मीर दोनों में होगी. बर्फबारी का यह हसीन मंजर शब्दों में कहा जाए तो ऐसा महसूस होता है कि पूरी घाटी ने सफेद ओढ़नी ओढ़ ली हो लेकिन इस बर्फबारी के साथ-साथ प्रशासन के लिए ढेरों चुनौतियों का एक कठिन समय भी आ जाता है.

उड़ान पर खराब मौसम की मार

श्रीनागर में मंगलवार सुबह बर्फबारी होते ही लो विजिबिलिटी के चलते सुबह परवाज करने वाली सभी उड़ानों में देरी हो गई और फिर लगातार खराब मौसम को देखते हुए आज श्रीनगर एयरपोर्ट से होने वाली सभी उड़ानों को रद्द कर दिया गया है.

कश्मीर घाटी में श्रीनगर को छोड़ अधिकतर जिलों में बर्फ जमा होते ही चलने-फिरने में कई तरह की कठनाइयों का सामना करना पड़ता है जिसको देख प्रशासन ने महत्वपूर्ण रास्तों पर बर्फ निकासी का काम शुरू कर दिया है. दूसरी ओर, बर्फबारी के कारण दिन का अधिकतम तापमान कई डिग्री नीचे लुढ़क गया है हालांकि न्यूनतम तापमान में थोड़ा उछाल के कारण रात की सर्दी में थोड़ी राहत जरूर मिली है.

बारिश और बर्फबारी का अलर्ट

मौसम विभाग ने पहले ही 3 जनवरी की शाम से घाटी में बर्फबारी की संभावना जताई थी. और मौसम विभाग के अनुसार दो वेस्टर्न डिस्टर्बेंस, एक के बाद एक घाटी के मौसम को प्रभावित करेगी जिस से एक छोटे अंतराल को छोड़ 3 जनवरी से 8 जनवरी तक बारिश और बर्फबारी का सिलसिला लगातार जारी रहेगा. कश्मीर घाटी में बर्फ ने भले ही स्थानीय लोगों और प्रशासन की चिंताएं बढ़ा दी हैं लेकिन पर्यटकों के लिए मांगी हुई दुआ का काबुल होने जैसा है. घाटी आए पर्यटकों के अनुसार यह बर्फबारी देखना अद्भुत है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button