अन्य खबर

विपक्ष का हंगामा, राज्यसभा की कार्यवाही दो बजे तक स्थगित

संसद के शीतकालीन सत्र का आज छठा दिन है. लोकसभा की कार्यवाही जारी है. 12 सांसदों के निलंबन के खिलाफ विपक्ष के हंगामा के चलते राज्यसभा की कार्यवाही आज भी बाधित हो रही है. हंगामे के चलते एक बार फिर उच्च सदन की कार्यवाही दोपहर दो बजे तक स्थगित कर दी गई है. इससे पहले राज्यसभा की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक स्थगित करनी पड़ी थी.

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद भवन में वरिष्ठ मंत्रियों के साथ बैठक की. बैठक में अमित शाह, पियूष गोयल, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण समेत कई अन्य वरिष्ठ नेता मौजूद रहे. इस दौरान नगालैंड फायरिंग मामले पर चर्चा की गई.

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज संसद के दोनों सदनों में नागालैंड फायरिंग की घटना पर बयान देंगे. वहीं, केंद्रीय कानून मंत्री किरेन रिजिजू आज लोकसभा में उच्च न्यायालय और उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश (वेतन और सेवा की शर्तें) संशोधन विधेयक 2021 पेश करेंगे. साथ ही केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया भी लोकसभा में राष्ट्रीय औषधि शिक्षा और अनुसंधान संस्थान (संशोधन) विधेयक 2021 को विचार और पारित करने के लिए पेश करेंगे.

ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के चीफ असदुद्दीन ओवैसी और RJD के सांसद मनोज झा ने संसद में नगालैंड फायरिंग मामले पर चर्चा की मांग की है. इससे पहले, लोकसभा में TRS सांसद नामा नागेश्वर राव ने ‘किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य के लिए खाद्यान्न खरीद और कानूनी गारंटी पर राष्ट्रीय नीति’ के मुद्दे पर स्थगन प्रस्ताव नोटिस दे दिया है. तो वहीं, नगालैंड फायरिंग की घटना पर चर्चा के लिए कांग्रेस सांसद मनिकम टैगोर और सांसद मनीष तिवारी ने स्थगन प्रस्ताव पेश किया है.

राज्यसभा में सांसद सुखेंदु शेखर रॉय ने नियम 168 के तहत ‘नागालैंड फायरिंग की घटना पर चर्चा जो कि महान जनहित का मामला है’ के लिए नियम 167 के तहत एक प्रस्ताव पेश करने का नोटिस दिया है. सांसद मनोज झा ने भी ‘नागालैंड में निर्दोष नागरिकों की हत्या से संबंधित मामलों पर चर्चा करने के लिए’ कार्य निलंबन नोटिस दिया है. वहीं, कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने कहा कि राज्यसभा के 12 विपक्षी सदस्यों का निलंबन रद्द होने तक संसद टीवी शो ‘टू द प्वाइंट’ की मेजबानी नहीं करेंगे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button