अन्य खबर

सोनिया गांधी का मोदी सरकार पर हमला, किसान और आम जनता के मुद्दों पर सुनाई खरी-खरी

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कांग्रेस संसदीय दल की बैठक में केन्द्र सरकार पर जोरदार हमला बोला. उन्होंने कहा कि सरकार किसानों को लेकर असंवेदनसील है. सोनिया गांधी ने कहा कि सरकार देश की संपत्तियों को बेचने का काम कर रही है. सीमा विवाद पर बोलते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि विपक्ष सीमा पर असुरक्षा को लेकर चर्चा करना चाहता है, लेकिन सरकार इसको लेकर तैयार नहीं है. उन्होंने केन्द्र सरकार की महंगाई और विनिवेश की नीति को लेकर आड़े हाथों लिया.

सोनिया गांधी ने राज्यसभा में 12 सांसदों के निलंबन को अनुचित करार दिया. इसके साथ ही, उन्होंने प्रदर्शनकारी किसानों को याद कर कहा- “आइए बलिदान देने वाले 700 प्रदर्शनकारी किसानों का सम्मान करें.”  कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मोदी सरकार भारत की संपत्ति बेचती है. लगातार बढ़ रही महंगाई करोड़ों परिवार के मासिक बजट को खराब कर रही है.

सोनिया गांधी ने सीमा विवाद का मुद्दा उठाते हुए कहा- “हम सीमा मुद्दों पर संसद में पूर्ण चर्चा की मांग करते हैं”. बता दें कि इस बैठक में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भी शामिल हुए हैं. कांग्रेस संसदीय दल की बैठक ऐसे वक्त पर हो रही है जब राज्यसभा के 12 सांसदों के शीतकालीन सत्र के दौरान निलंबन के चलते विपक्षी दलों की तरफ से लगातार विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है.

दूसरी तरफ, विपक्षी दल आज संसद परिसर में गांधी की प्रतिमा के सामने राज्यसभा से सांसदों के समर्थन में विरोध प्रदर्शन करने जा रहे हैं. यह प्रदर्शन सुबह करीब 10 बजे से लेकर शाम पांच बजे तक चलेगा. राज्यसभा में प्रतिपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने सोमवार को कहा था कि संसद के उच्च सदन में कार्यवाही में बाधा के लिए सरकार जिम्मेदार है. इसके साथ ही उन्होंने राज्यसभा के 12 सांसदों के निलंबन को गलत करार दिया.

विरोध प्रदर्शन को लेकर सरकार को ठहराया जिम्मेदार 

मल्लिकार्जुन खड़गे ने मीडिया से बात करते हुए विपक्षी दलों की तरफ से किए जा रहे संसद में विरोध प्रदर्शन को लेकर सरकार को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा- राज्यसभा में जो कार्यवाही में बाधाएं आ रही हैं, उसके लिए सरकार जिम्मेदार है. हमने सदन को सुचारू रूप से चलाने की काफी कोशिशें की, हम राज्यसभा के सभापति से मिले और उनसे अपने विचार रखे कि सांसदों को सिर्फ नियम 256 के तहत ही निलंबित किया जा सकता है.

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी भी इस बैठक में शामिल होंगे. माना जा रहा है कि इसमें सरकार को घेरने की रणनीति पर चर्चा होगी. कांग्रेस और दूसरे विपक्षी दल 12 सांसदों के निलंबन के खिलाफ लगातार आवाज उठा रहे हैं. इन सांसदों पर अनुशासनहीनता के लिए कार्रवाई की गई है और इस शीतकालीन सत्र के लिए निलंबित किया गया है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button