उत्तर-प्रदेश

अखिलेश 47 सीटें भी बचा लें तो भी मानूंगा वह अच्छे नेता : मौर्य

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने रविवार को तंज कसा कि समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव मौजूदा विधानसभा चुनाव में यदि 2017 के चुनाव में जीती गई 47 सीटें भी बचा लें तो वह मान लेंगे कि अखिलेश एक अच्छे नेता हैं। उन्होंने कहा कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव बौखलाए हुए हैं। जो सपने देख रहे थे, वे चकनाचूर हो गए हैं। जनता जानती है कि दंगाइयों के गिरोह के सिवा सपा के पास कुछ नहीं है। जनता ने सपा की साइकिल पंक्चर कर दी है। लोगों ने उनके गठबंधन के नकार दिया है। बसपा का कहीं अता-पता नहीं है।

कांग्रेस नेताओं के ट्वीट पर तंज कसते हुए उप मुख्यमंत्री ने कहा कि राहुल गांधी विदेश से लौट आए हैं या नहीं, मुझे पता नहीं है। वैसे राहुल गांधी और अखिलेश यादव का इंटरनल रश्तिा है। उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के पास फोटो खिंचाने के अलावा कोई काम नहीं बचा है। भाजपा अगड़ा, पिछड़ा और अनुसूचित वर्ग की त्रिवेणी है। इस त्रिवेणी के साथ सभी लोग समाहित हैं। उन्होने दावा किया कि प्रदेश में 300 से अधिक सीटें जीतकर के सरकार बनाएंगे। भाजपा के पास सभी सामाजिक वर्ग का गुलदस्ता है, जबकि सपा के पास गुंडे, अपराधियों, माफियाओं, भ्रष्टाचारियों का गुलदस्ता है।

केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि अभी पत्रकार सुधीर सैनी की सहारानपुर में हत्या कर दी गई और कल अखिलेश यादव के गुंडों ने गाजियाबाद में पत्रकारों को पीटा। इस सवाल का उनको जवाब देना पड़ेगा। अखिलेश अगर अपनी 47 सीटें भी बचा लेंगे तो मैं मानूंगा कि वह अच्छे नेता हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button