उत्तर-प्रदेश

मुस्लिम समुदाय के लड़कों को भड़काकर खुद ही हत्‍या करा रही है बीजेपी, समाजवादी पार्टी के प्रत्‍याशी ओमप्रकाश सिंह ने लगाए गंभीर आरोप

उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री और जमानिया से समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी ओमप्रकाश सिंह पर बीजेपी आईटी सेल के कार्यकर्ता को धमकी देने का आरोप लगा था. सोमवार को वह इस मामले में अपने ऊपर दर्ज एफआईआर के बाद कोर्ट में पेश हुए हैं. कोर्ट ने उन्हें निजी मुचलके पर जमानत दे दी है. जमानत मिल जाने के बाद पूर्व मंत्री ने प्रेस वार्ता कर जिला प्रशासन और शासन पर कई तरह के गंभीर आरोप भी लगाए हैं.

जमानत मिल जाने के बाद पूर्व मंत्री ओमप्रकाश सिंह पत्रकारों से मुखातिब हुए. अपने पर दर्ज मुकदमे पर बोलते हुए उन्‍होंने कहा कि क्राइम की रिपोर्ट फाइल कर दी तब उसके बाद 171 का मुकदमा दर्ज किया गया है. वह एक जिम्मेदार जनप्रतिनिधियों में से एक है. सिंह ने कहा कि अब उनके मामले में उन्हें लोकतंत्र के चौथे स्तंभ मीडिया पर यकीन है. उन्होंने कहा कि क्या वह कोई बड़े अपराधी है जो प्रशासन के लोग न्यायालय तक पहुंच गए.वह 6 बार विधायक और एक बार के सांसद रह चुकें है.

वायरल ऑडियो के जांच मांग

इस दौरान ओमप्रकाश सिंह ने बीजेपी के आईटी सेल पर भी गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि इनके लोग मुस्लिम समुदाय के लड़कों के साथ गाली गलौज और धमकाने का काम कर रहे थे, जिसके बाद वे युवक उनके पास आए तब उन्होंने उसको समझाया.वहीं ओमप्रकाश सिंह ने प्रशासन पर भी आरोप लगाया कि उनका जो ऑडियो वायरल हुआ है उसकी जांच अभी तक नहीं हुई है.प्रशासन को ऑडियो की भी जांच करानी चाहिए.

ओमप्रकाश सिंह ने आरोप लगाया कि बीजेपी आईटी सेल के लोग फर्जी आईडी का उपयोग करते हैं और उसी आईडी से मुस्लिम लड़कों को चिढ़ाते हैं. सिंह ने कहा कि उनके विधानसभा में आजादी से पहले या फिर आजादी के बाद कभी भी दंगा नहीं हुआ है.बीजेपी IT सेल सौहार्दपूर्ण माहौल को खराब कर रहा है.

… तो क्‍या अमित शाह मोहब्बत कर रहे हैं?

इस दौरान उन्होंने शासन और प्रशासन पर कई गंभीर आरोप लगाए.ओमप्रकाश सिंह ने कहा कि उनकी लड़ाई हुकूमत के खिलाफ है.वे अमित शाह पर भी बोलने से नहीं चूके और कहा कि आजम खान के बेटे पर आचार संहिता का उल्लंघन की बात कही जा रही है, तो अमित शाह जो कर रहे हैं वो क्‍या मोहब्बत कर रहे हैं.

इस दौरान उन्होंने अपराध के आंकड़ों पर कहा कि अभी गोरखपुर और लखनऊ में हत्याएं हुई हैं. कैबिनेट मंत्री लक्ष्मीनारायण के प्रस्तावक की भी हत्या हुई हैं, ऐसे में जब सभी अपराधी धरती से ऊपर चले गए हैं, या फिर जेल चले गए हैं तो फिर भारतीय जनता पार्टी ही बची है, तो यही हत्या करा रही है. ओमप्रकाश सिंह ने साफतौर पर कहा कि भारतीय जनता पार्टी खुद ही हत्या करा रही है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button