उत्तर-प्रदेश

हमीरपुर सीट पर BJP ने खोल दिए पत्ते, सपा के बागी मनोज प्रजापति को बनाया उम्मीदवार

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में हमीरपुर सदर विधानसभा सीट को लेकर कई दिनों से चले आ रहे संशय को खत्म करते हुए बीजेपी ने सपा से बागी होकर बीजेपी में शामिल हुए मनोज प्रजापति को अपना उम्मीदवार घोषित कर सबको हैरान कर दिया है. पार्टी लाइन से अलग हुए इस टिकट को लेकर बीजेपी के नेता खुद सकते में आ गए हैं.

तीसरे चरण में हमीरपुर जिले में विधानसभा चुनाव का मतदान होना है, जिसके लिए 25 जनवरी से 1 फरवरी तक नामांकन पत्र दाखिल किए जाने थे. सभी राजनैतिक दल अपने पत्ते खोल चुके थे और मंगलवार को जब नामांकन का आखिरी दिन बचा है तो सोमवार को बीजेपी ने सपा के बागी मनोज प्रजापति को अपना प्रत्याशी घोषित कर दिया है.

सदर सीट से बीजेपी के कई दावेदार मजबूती से टिकट को लेकर अपने दावे पेश कर रहे थे, जिसमें सूबे में राज्यमंत्री का दर्जा पाये बाबूराम निषाद, हमीरपुर बीजेपी चेयरमैन कुलदीप निषाद, सीटिंग बीजेपी विधायक युवराज सिंह, किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष शिवशंकर सिंह प्रमुख थे. लेकिन जब बीजेपी का टिकट हुया तो इस सब नेताओ की उम्मीद पर पानी फिर गया.

कौन हैं डॉ मनोज प्रजापति

डॉ मनोज प्रजापति वैसे तो सपा के कद्दावार नेताओ में गिने जाते थे. इनके पिता शिव चरण सिंह बसपा और सपा से विधायक भी रह चुके हैं. डॉ मनोज प्रजापति 2017 और 2019 के उप चुनाव में सपा से प्रत्याशी रहे थे और दोनों बार इनकी हार हुई थी. एक बार फिर वो सपा से टिकट मांग रहे थे, लेकिन सपा ने उनको टिकट न देते हुए नए चेहरे राम प्रकाश प्रजापति पर दांव लगा दिया. जिससे नाराज होकर वो बागी होकर बीजेपी में शामिल हो गए और बीजेपी ने उन्हें अब भाजपा प्रत्यासी बना दिया है.

BJP को हो सकता है फायदा

सदर विधान सभा सीट में करीब 38 हजार प्रजापति वोटर हैं, जो डॉ मनोज और उनके पिता शिव चरण का वोट बैंक माना जाता है. सपा ने भी राम प्रकाश प्रजापति को अपना प्रत्याशी बनाया है, ऐसे में प्रजापति वोटरों में सेंधमारी के लिए मनोज को टिकट दिया गया है. लेकीन सदर विधानसभा सीट में मनोज का टिकट फाइनल होने के बाद टिकट के अन्य नाराज दावेदार बीजेपी के लिए बागी होकर भी मुश्किल खड़ी कर सकते हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button