उत्तर-प्रदेशबड़ी खबर

‘झाड़ू छाप’ सियासी गाने के माध्यम से जनता को लुभाने में जुटी आम आदमी पार्टी

उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर तमाम पार्टियाँ अलग-अलग अंदाज़ में अपनी साख जमाती नज़र आ रही हैं। जब चुनाव को महज़ 7 दिन शेष बचे हैं, राजनीतिक दलों में हिंदी और भोजपुरी भाषाओं में सियासी गानों के जरिये मतदाताओं को लुभाने की होड़ मची हुई है। इस कड़ी में भाजपा, सपा, सुभासपा और निषाद पार्टी के बाद कुछ दिनों पहले आम आदमी पार्टी ने भी एक गीत तैयार किया है, जिसका नाम है ‘झाड़ू छाप’।

आप पार्टी जनता के दिलों में जगह बनाने में कोई कमी-कसर नहीं छोड़ना चाहती है। इसलिए हाल ही में पार्टी ने देसी माइक्रो-ब्लॉगिंग मंच कू ऐप के ऑफीशियल अकाउंट से अपने सियासी गाने से संबंधित एक पोस्ट साझा की है, जिसमें कहा गया है:

“युवाओं में जोश और जज़्बा यू पी चुनाव के लिए बने गाने पर झूम के नाचे AAP Flash Mob के युवा।
अब यू पी का कचरा करने साफ़ आया है
यहाँ भी केजरीवाल का ‘झाड़ू छाप’ आया है।

एक मौका केजरीवाल को”

आम आदमी पार्टी के इस गीत में मुफ्त बिजली सहित सभी चुनावी वादों को बेहतर ढंग से पिरोया गया है। इस गाने को घर-घर पहुँचाने के लिए हर विधानसभा में 20-20 टीमें बनाई गई हैं और विभिन्न सोशल मीडिया माध्यमों से प्रदेश के सभी लोगों तक इसे पहुँचाने का लक्ष्य रखा गया है।

सूत्रों की मानें, तो ‘झाड़ू छाप’ के अलावा भी पार्टी द्वारा दो और भोजपुरी गीत तैयार किए जा रहे हैं, जिनमें से एक के बोल हैं, ‘सारा सिस्टम में आ जाई सुधार, जब बनी आम आदमी की सरकार’, जबकि दूसरे हिंदी गाने के बोल हैं, ‘सुबह सबेरे घर से निकलकर लाइन में लग जाएंगे, झांसे में नहीं आएंगे और आप पर बटन दबाएंगे’। अब देखना यह है कि एक हफ्ते में ये गाने कितना असर करते हैं।

जारी की सातवीं सूची

आम आदमी पार्टी ने बीते दिन 20 और प्रत्याशियों की सूची जारी की। इस सातवीं सूची में शामिल उम्मीदवारों सहित अब तक कुल 324 प्रत्याशियों की घोषणा की जा चुकी है।

सूत्रों की मानें तो आप द्वारा पढ़े-लिखे लोगों को टिकट देने में प्राथमिकता दी गई है। आप की इस सूची में दो डॉक्टर्स, एक पीएचडी, दो एलएलबी, पांच स्नातकोत्तर (पीजी) व सात स्नातक (यूजी) पास लोग शामिल हैं। जल्द ही बाकी उम्मीदवारों की भी घोषणा की जाएगी।

इन 20 सीटों पर घोषित किए गए प्रत्याशी

1. बीकापुर: सुनील कुमार श्रीवास्तव
2. आजमगढ़: शिव गोविंद सिंह
3. दीदारगंज: नेंबूलाल
4. फूलपुर-पवई: दुर्गविजय सिंह
5. रसड़ा: सुधाकर गुप्ता
6. नरैनी (सुरक्षित): राधेश्याम
7. बिन्दकी: मनोज कुमार पाल
8. खागा (सुरक्षित) : विजय कुमार गौतम
9. टूण्डला (सुरक्षित): बबलू सिंह कठेरिया
10. गौरा: संजय कुमार पाठक
11. मनकापुर (सुरक्षित): जय राम सुमन
12. बासगांव (सुरक्षित): लाल बच्चन
13. सवायजपुर: मंशा राम यादव
14. धौरहरा: शिप्रा अवस्थी
15. खड्डा: राजकुमार गुप्ता
16. नौतनवा: गुड्डू ठाकुर
17. रामपुर खास: अजीत
18. फूलपुर: राम सूरत पटेल
19. सरेनी: देवेन्द्र पाल
20. सिधौली (सुरक्षित): कन्हैया लाल

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button