अन्य खबर

खाकी पर दाग: कानपुर में अवैध हिरासत में रखकर वसूली का मास्टर माइंड था IPS अफसर, वाराणसी में रेप का आरोपी दारोगा बर्खास्त

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के काकादेव क्षेत्र के घर में घुसकर नकदी व जेवरात लूटने और चार लोगों को अवैध हिरासत में लेकर लाखों रुपये ऐंठने के आरोप में लखनऊ कमिश्नरेट पुलिस के आठ पुलिसकर्मियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. डकैती का मामला खाकी को शर्मसार करने वाला है और चौंकाने वाली बात ये है कि पुलिसकर्मियों के पीछे साजिशकर्ता एक आईपीएस अफसर है. बताया जा रहा है कि कभी कानपुर में तैनात रहे आईपीएस इस टीम को लीड कर रहा था. आरोप है कि इस आईपीएस के कहने पर लखनऊ पुलिस पीड़ितों को कानपुर से उठा ले गई. वहीं पीड़ित का दावा है, उसके पास आरोपी के खिलाफ कई सबूत हैं.

असल में कानपुर के शास्त्री नगर के काकादेव निवासी अजय सिंह के बेटे मयंक ने लखनऊ कमिश्नरेट के पूर्वी जोन में तैनात रजनीश वर्मा, देवकी नंदन, संदीप शर्मा, नरेंद्र बहादुर, रामनिवास शुक्ला, आनंद मणि सिंह, अमित लखेड़ा और रिंकू सिंह को इस मामले में आरोपी बनाया है. आरोप है कि 24 जनवरी, 2021 को ये पुलिसकर्मी मयंक और उसके दोस्त को अवैध हिरासत में लेकर लखनऊ ले गए.

आईपीएस कर रहा टीम का नेतृत्व

दूसरे दिन लखनऊ पुलिस उसके साथ शास्त्री नगर पहुंची और घर में रखे गहने और नकदी लूट लिए. इसके बाद में उसके मामा और एक अन्य दोस्त को भी अवैध हिरासत में ले लिया गया और चारों को रिहा करने के एवज में 40 लाख रुपये वसूले गए. वसूली करने के बाद सट्टेबाजी के लिए चालान कर दिया गया. यह बात सामने आई है कि कानपुर आई लखनऊ कमिश्नरेट की पुलिस टीम का नेतृत्व कानपुर में तैनात रहा एक आईपीएस कर रहा था.

रेप का आरोपी दारोगा बर्खास्त

वाराणसी में क्राइम ब्रांच के इंस्पेक्टर रहे अमित कुमार को बर्खास्त कर दिया गया है. उन पर मथुरा की एक लड़की ने यौन शोषण का आरोप लगाया था और विभागीय जांच के बाद आरोपों के सच पाए जाने के बाद उसे बर्खास्त कर दिया गया है. यही नहीं अमित कुमार की पत्नी ने भी उसके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी. जिसके बाद उसे डिमोट कर दिया गया था. विभागीय जांच रिपोर्ट के आधार पर अपर पुलिस आयुक्त अपराध एवं मुख्यालय सुभाष चंद्र दुबे ने बर्खास्तगी के आदेश दिए हैं. महिला का आरोप था कि शादी के बहाने उसे होटल में रखकर नशीला पदार्थ पिलाकर उसके साथ रेप किया गया और इसके बाद अश्लील वीडियो बनाकर उसे वायरल किया गया.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button